Board index Experiences, Reviews, Q/A, Discussion General Discussion क्या आत्मा एक शक्ति है ? Whether soul is an energy?

क्या आत्मा एक शक्ति है ? Whether soul is an energy?



Posts: 144
Link with BKs: BK
ओम शान्ति !
प्रिय बहनों और भाईओं,

आज की मुरली (03 /07/2017 ) :- प्यारे बाबा ने कहा है
बाबा इस दादा के मुख द्वारा बोलते हैं। जो रत्न बाबा के मुख से निकलते हैं, वही तुम बच्चों के मुख से निकलने चाहिए।



तो मेरे प्यारे बहनों और भाइयों, जब की हम ऐसी important point, हम मीठे बाबा से सुने ही नहीं की "आत्मा एक चेतन शक्ति है", तो हम क्यों बोलते हैं ?

क्या आपको नहीं लगता की आत्मा की बारे में यह एक important point है ?

क्या ज्ञान के सागर इस बाक्य को न बोल कर हमें आत्मा की पूरी समझ दिया नहीं हैं, जो की आज हमारी प्रायः सभी बहनें,भाई आत्मा की समझानी देते समय यह अबश्य बोलते हैं की “आत्मा एक चेतन शक्ति है I”

जो मेरे बाबा बोले, वही मैं बोलूं, या जो मेरा बाबा की बोल हो वही मेरी बोल हो, तो कितना मजा आएगा, हम सब एक बाबा के एक मत वाले हो जाएंगे I अच्छा ,ओम शान्ति I

आपका भाई
ब. कु. अतुल्य


Posts: 144
Link with BKs: BK
ओम शान्ति !
प्रिय बहनों और भाईओं,

आज की मुरली (07 /07/2017 ) प्यारे बाबा ने कहा है
ऊपर में निराकार आत्माओं का झाड़ है। कितनी स्पेस लेते होंगे। बहुत थोड़ी होगी।


अर्थात आत्मा, चाहे कितना भी छोटी क्यों न हो, आत्मा का कुछ आकर (Size) है I क्या ‘शक्ति’ के लिए छोटी या बड़ी (size) कहना उचित लगता है ?

फिरसे इस बिषय की प्रश्न की और ध्यान दिलाता हूँ की " क्या आत्मा एक शक्ति है ?"

On the other hand the definition of object:- which has a shape / which takes a 3 dimensional space.

Thanks and regards

Your brother
BK Atulya


Posts: 144
Link with BKs: BK
आज की मुरली (Dt.01/02/2018) में बाबा आत्मा की बारे में समझानी देते बोले
तुम जानते हो आत्मा बहुत छोटी सूक्ष्म है, उनको इन आंखों से देखा नहीं जाता है। ऐसा कोई मनुष्य नहीं होगा जिसने आत्मा को देखा होगा। हाँ देखने में आ सकती है - परन्तु दिव्य दृष्टि से और वह भी ड्रामा के प्लैन अनुसार। भक्ति मार्ग में भी इन आंखों से कोई साक्षात्कार नहीं होता। दिव्य दृष्टि मिलती है, जिससे चैतन्य में देखते हैं। दिव्य दृष्टि अर्थात् चैतन्य में देखना।


Point 1- आत्मा बहुत छोटी है I

यह तो समझ में आता है की बाबा हमें आत्मा की SIZE के बारे में बता रहे हैं I

A) अगर आत्मा को एक शक्ति (ENERGY) माने तो क्या शक्ति (ENERGY) की कोई SIZE हो सकता है ?

B) शक्ति (ENERGY) के लिए छोटा या बड़ा कहना क्या उचित लगता है ?

Point 2 - क्या आत्मा को देखा जा सकता है?

बाबा बोले,
हाँ देखने में आ सकती है - परन्तु दिव्य दृष्टि से और वह भी ड्रामा के प्लैन अनुसार।


C) क्या शक्ति (ENERGY) को दिव्यदृष्टि से देखा जा सकता है ?

कोई बहन भाई सोचते बाबा यह SIZE, SHAPE शब्द कहाँ बोले ?

हाँ, आज की मुरली (Dt.01/02/2018) में बाबा परमात्मा के बारे में समझानी देते बोले:-
अभी तुम समझते हो जैसे तुम आत्मा हो वैसे वह सुप्रीम आत्मा है। साइज एक ही है।


स्पष्ट है की आत्मा या परमात्मा की कोई SIZE है, चाहे कितनी भी छोटी क्यों न हो I

अब आत्मा की शक्ति और परमात्म शक्ति में कितनी अन्तर आप जानते, परन्तु दोनों की SIZE एक ही है I

यहाँ साइज शब्द का भावार्थ भी स्पष्ट है की जैसे एक स्थूल वस्तु कुछ स्पेस (space) लेता है, उसी प्रकार आत्मा भी कुछ स्पेस (space) लेती है I

तो मेरे प्यारे बहनों और भाइयों :- बिचार कीजिएगा की क्या कोई शक्ति (ENERGY) का SIZE के बारे में प्यारे बाबा यह महावाक्य बोले हैं ?

आपका भाई
ब. कु. अतुल्य

Previous

Return to General Discussion